आँखों की रौशनी के साथ सेक्स क्षमता भी बढाती है गाजर

आँखों की रौशनी के साथ सेक्स क्षमता भी बढाती है गाजर

जी हाँ आँखों की रौशनी बढ़ाने,तंदुरुस्ती लाने, के साथ ही क्या आप जानते है गाजर सेक्स क्षमता यानी यौन शक्ति को भी प्रबल करती है अगर अाप इससे होने वाले फायदों के बारे में सुनेगें तो रोजाना गाजर का सेवन करेगेंं। तो आइये जानते है गाजर से लाभ के बारे में ..

1.कैल्शियम से भरपूर  
आलू के मुकाबले गाजर में छ: गुना ज्यादा कैल्शियम की मात्रा होती है इसलिए छोटे बच्चों अौर बड़ों के लिए गाजर का जूस पिना फायदेमंद होता है।

2.औषधिय गुणों से है भरपूर 
गाजर को कच्चा या फिर उबालकर खाने से यूरीन में जलन, कफ-खांसी की समस्या और पथरी की परेशानी में आराम मिलता है अौर गाजर का जूस पीने से दिमाग भी स्वस्थ रहता है।

3.विटामिन ई की प्रचूर मात्रा 
गाजर में विटामिन ‘ई’ काफी मात्रा में पाया जाता है। इसके सेवन से शरीर में नए रक्त का निर्माण होता है। यह एक बेहतरीन टॉनिक का काम भी करती है।

4.एनीमिया में राहत 
एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति के लिए गाजर खाना बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है इसलिए रोजाना सलाद या जूस के रुप में सुबह और शाम को गाजर का सेवन करना चाहिए । इसके सेवन से ब्लड कैंसर का खतरा भी कम हो सकता है।

5.गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद 
जिन महिलाअों को बार-बार गर्भस्राव हो जाता है। उसे गर्भ धारण के पहले महीने से ही आठवें महीने तक हर रोज करीब 250 एम.एल गाजर का ताज़ा जूस पिना चाहिए।

6.छोटे बच्चों को देता है ताकत 
बच्चों के दांत निकलने के समय गाजर के रस को पिलाने से दांत आसानी से निकल जाते हैं अौर बच्चे को गाजर और संतरे का रस मिलाकर देने से वह जल्दी चलने लगता है।

7.यौन शक्ति बढ़ाने में सहायक 
गाजर टॉनिक के रूप में काम करती है। गाजर और मूली के रस को बराबर मात्रा में लेकर रोजाना पीने से यौन शक्ति बढ़ती है।

8.बवासीर में दे आराम 
बवासीर के मरीजों के लिए गाजर का सेवन करना बेहद लाभदायक होता है। गाजर के जूस को बकरी के दूध से बनी दही में मिलाकर सुबह पीड़ित को पिलाने से बवासीर को की रोकथाम हो सकती है।

9. पीलिया में भी फायदेमंद 
पीलिए के रोगी को गाजर का काढा से वह जल्द ही छीक हो जाता है। इसके अलावा  ऐंठन होने पर गाजर को भूनकर शक्कर के साथ खाने से अाराम मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *