इन घरेलु नुस्खों से एसिडिटी को करें गुड बाय

इन घरेलु नुस्खों से एसिडिटी को करें गुड बाय

एसिडिटी की समस्या एक ऐसी स्थिति है जिसमें पेट के ऊपरी भाग में जलन और दर्द अनुभव किया जाता है। यह जलन आमतौर पर खाना खाने के तुरंत बाद होती है। हाजमे की समस्या के मुख्य लक्षण हैं पेट के ऊपरी भाग में दर्द,भूख ना लगना,डकार आना तथा पेट में गैस होना।

आज समाज में एसिडिटी की समस्या काफी आम हो गयी है। इस समस्या का पूरी तरह निदान करने की चेष्टा करनी चाहिए अन्यथा यह किसी बड़ी बीमारी में भी परिवर्तित हो सकती है।

आजकल की भागदौड भरी और अनियमित जीवनशैली के कारण पेट की समस्या आम हो चली है। आमतौर पर तली-भुनी और मसालेदार खाने का सेवन करने के कारण एसिडिटी की समस्या होती है। खाने का एक समय निर्धारित भी नहीं होता है, जो एसिडिटी का कारण बनता है। पेट में जब सामान्य से अधिक मात्रा में एसिड निकलता है तो उसे एसिडिटी कहते हैं। आइए हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताते हैं जिनको अपनाकर आप एसिडिटी से छुटकारा पा सकते हैं।

एसिडिटी का कारण

हाजमे की समस्या तब होती है जब पेट के एसिड मुंह की तरफ वापस आ जाते हैं और यह तब होता है जब पेट का द्वार ठीक प्रकार से काम ना कर रहा हो। इस समस्या के मुख्य कारक हैं…

  • अधिक वज़न होना
  • खाने के तुरंत बाद सो जाना
  • ज़्यादा तली हुई चीज़ों का सेवन करना
  • काफी मात्र में शराब पीना
  • तनाव
  • गर्भावस्था
  • ठीक समय पर न खाना
  • ज्यादा समय तक खली पेट रहना

एसिडिटी, गैस और बदहज़मी के लक्षण

  • सीने में जलन
  • भोजन करने के बाद दर्द
  • मुंह में कड़वा स्वाद आना
  • भूख ना लगना
  • डकार आना
  • पेट में गैस होना

गैस और एसिडिटी से तुरंत राहत के उपचार

  1. एक गिलास ठंडा दूध पीने से बदहजमी से तुरंत राहत प्राप्त होती है..
  2. मुंह में एक लौंग लेकर इसे चबाएं तथा इसके रस को पी जाये..
  3. पानी में इलायची डालकर इसे उबालें तथा इस पानी का सेवन करें..
  4. एक चम्मच अजवायन लें और एक चम्मच का चौथा भाग निम्बू का रस लें। निम्बू के रस को अजवायन के साथ मिलकर चाट लें..
  5. दूध के साथ केले का सेवन करने से जल्दी ही आपके पेट को गैस से राहत मिलेगी..
  6. अदरक का रस, सेंधा नमक और जीरा लेकर उसे भुन लें। अब तीनो को एक साथ मिलाकर इस मिश्रण का सेवन करें..
  7. भोजन करने के बाद एक गिलास दूध के साथ ईसबगोल का सेवन करें..
  8. अदरक और पुदीने के रस को बराबर मात्रा में लेकर इसका सेवन करें..
  9. अदरक के रस के साथ शहद को मिलाकर पीने से भी पेट की एसिडिटी खत्म हो जाती हैं..
  10. एसिडिटी होने पर मुलेठी का चूर्ण या काढ़ा बनाकर उसका सेवन करना चाहिए..
  11. त्रिफला को दूध के साथ पीने से एसिडिटी समाप्त होती है..
  12. नारियल का पानी पीने से एसिडिटी की समस्या से छुटकारा मिलता है..

    एसिडिटी को दूर करने के घरेलू नुस्खे

    1. रोज़ाना खाने से पहले आधा गिलास एलोवेरा का रस पिए..

    2. रोज़ सोने से पहले 2 चम्मच शहद का पानी के साथ सेवन करें..

    3. रात में सौंफ को पानी में डाल दे और सुबह इस पानी का सेवन करे.

    4. एसिडिटी होने पर सलाद के रूप में मूली खाना चाहिए। मूली काटकर उस पर काला नमक तथा काली मिर्च छिडककर खाने से फायदा होता है..

    5. जायफल तथा सोंठ को मिलाकर चूर्ण बना लीजिए। इस चूर्ण को एक-एक चुटकी लेने से एसिडिटी समाप्त होती है..

    6. एसिडिटी होने पर कच्ची सौंफ चबानी चाहिए। सौंफ चबाने से एसिडिटी समाप्त हो जाती है.

    7. सुबह-सुबह खाली पेट गुनगुना पानी पीने से एसिडिटी में फायदा होता है..

    8. रोजाना खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू निचोड़ कर पीने से कब्ज नहीं होती है..

    9. गुड़, केला, बादाम और नींबू खाने से एसिडिटी जल्दी ठीक हो जाती है..

    10. पानी में पुदीने की कुछ पत्तियां डालकर उबाल लीजिए। हर रोज खाने के बाद इन इस पानी का सेवन कीजिए। एसिडिटी में फायदा होगा..

    11. रोजाना खाली पेट एक सेब खाने से गैस, कब्ज व एसिडिटी जैसी पेट की समस्याएं दूर हो जाती हैं..

    12. दूध में मुनक्का डालकर उबालिये। उसके बाद दूध को ठंडा करके पीने से फायदा होता है.

    13. एक गिलास गुनगुने पानी में थोड़ी सी पिसी काली मिर्च तथा आधा नींबू निचोड़कर नियमित रूप से सुबह पीने से लाभ होता है..

    14. सौंफ, आंवला व गुलाब के फूलों का चूर्ण बनाकर उसे सुबह-शाम आधा-आधा चम्मच लेने से एसिडिटी में लाभ होता है.

    15. सुबह- शाम आंवले के चूर्ण का सेवन करें..

    16.नीम की छाल को पीसकर उसका चूर्ण बनाकर पानी के साथ लेने से एसीडिटी में राहत मिलती है। इतना ही नहीं यदि आप चूर्ण का सेवन नहीं करना चाहते तो रात को पानी में नीम की छाल भिगो दें और सुबह इसका पानी पीएं..

    17.खाने के बाद थोड़ा गुड़ खाने से एसिडिटी से राहत मिलती है..

    18.शाह जीरा अम्लता निवारक होता है। डेढ लिटर पानी में २ चम्मच शाह जीरा डालें । १०-१५ मिनिट उबालें। यह काढा मामूली गरम हालत में दिन में ३ बार पीयें..

    19.जीरा एसिडिटी के लिए रामबाण इलाज है। जीरा रात को पानी में भीगोकर रख दीजिये और सुबह खली पेट ये पानी पीजिये..जीरा कच्चा चबाकर फिर एक ग्लास पानी पीजिये इससे बी एसिडिटी में राहत मिलेगी..
    अधिक मात्रा में पानी पीने, दोपहर के खाने से पहले पानी में नींबू और मिश्री का मिश्रण, नियमित रूप से व्यायाम और दोपहर और रात के खाने के बीच सही अंतराल आदि सावधानियों से एसिडिटी की समस्या से बचा जा सकता है।

    एसिडिटी की समस्या खान-पान के कारण ज्यादा होती है। इसलिए ज्यादा गरिष्ठ भोजन करने से परहेज करना चाहिए। एसिडिटी के समय रात को सोने से तीन घंटे पहले डिनर कर लेना चाहिए, जिससे खाना अच्छे से पचे। इन नुस्खों को अपनाने के बाद भी एसिडिटी अगर ठीक न हो रही हो तो चिकित्सक से संपर्क अवश्य कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *