कैसे सेक्स की इच्छा (libido) को बढायें

कैसे सेक्स की इच्छा (libido) को बढायें

सेक्स की इच्छा (libido) किसी व्यक्ति की सेक्स ड्राइव होती है | चाहे आप महिला हों या पुरुष, सेक्स के प्रति अपने और अपने साथी के आकर्षण और सुख को बढाने के लिए शार्ट टर्म और लॉन्ग टर्म दोनों ही तरह की विधियों को सीखने में आपकी अच्छी-खासी रूचि हो सकती है | आप भी सेक्स में इच्छा की कमी को फिर से वापस पाने या अपनी यौनक्रियाओं को परफॉर्म करने की शक्ति को रिकवर करने के लिए उपयोगी सलाह ढूँढ सकते हैं तो आइये इस लेख को पढ़ते हैं जिससे आपको इस विषय पर थोडा मार्गदर्शन तो मिल ही सकता है:

1.  एक सकारात्मक मानसिक दृष्टिकोण अपनाएं और अपने तनाव का स्तर कम रखें: अगर आप अच्छा अनुभव करते हैं और स्वयं पर भरोसा रखते हैं तो आप अपने साथी के प्रति अधिक सेक्सुअल और आकर्षण अनुभव कर सकते हैं |

  • लम्बे समय तक तनाव के बने रहने के कारण सेक्स के प्रति रूचि कम हो सकती है |  जो लोग तनावपूर्ण जॉब करते हैं या जो लोग लम्बे समय से बार-बार जॉब बदल रहे होते हैं (हम सभी जानते हैं कि इससे कितना तनाव हो सकता है), उनमें परिणामस्वरूप अक्सर सेक्स ड्राइव दब जाती है |
  • महिलाएं और पुरुष तनावपूर्ण स्थितियों के प्रति अलग-अलग तरह से प्रतिक्रिया देते हैं | पुरुषों के लिए, सेक्स का मतलब अधिकतर तनावपूर्ण ऊर्जा को रिलीज़ करना होता है जबकि महिलाओं के लिए, तनाव, सेक्स को अभिशाप बना देता है या बेमतलब का बना देता है |  अपने साथी के साथ बात करने और सेक्स करने के बीच के अलग-अलग रिएक्शन की सही इंजीनियरिंग और सेक्स के लिए तनाव रहित समय के बारे में समझें |

2. विशेष प्रकार के खाद्य पदार्थ, जो आपकी सेक्स की इच्छा को बढ़ाते है .

  • सेक्स की इच्छा को बढाने वाले कुछ खाद्य पदार्थों में शामिल हैं-सेलेरी (celery), कच्चे ओयेस्टर, केला, एवोकाडो, नट्स, आम, आडू (peaches), स्ट्रॉबेरीज, अंडे, लिवर, फिश, लहसुन, कद्दू और चॉकलेट |

3. सेक्स ड्राइव के कम पसंद किये जाने वाले मनोवैज्ञानिक कॉम्पोनेन्ट पर विचार करें:

अक्सर यौन इच्छा, वातावरणीय उत्तेजकों के द्वारा बढ़ या कम हो सकती है |

  • अपने मूड को खराब होने से बचाने के लिए अपने बाथरूम से उपरोक्त चीज़ों को हटा दें:
  • माता-पिता या बच्चों के फोटो (जिन्हें देखने पर कभी-कभी लगता है जैसे वे आपको “घूर” रहे हैं) | इसी प्रकार उन पालतू जानवरों की तस्वीर भी हटा दें जो आपके साथ घूमते-फिरते रहते हैं या आपके साथ ही सोते हैं |
  • रद्दी, किताबें और काम से सम्बंधित फाइल्स |
  • अपने मूड को सेट करने में मदद के लिए:
  • ऐसी लाइटिंग चुनें जो धीमा प्रकाश दे सकें या मोमबत्ती जलाएं | हलके, फुल-स्पेक्ट्रम वाले बल्ब सबसे उपयुक्त रोशनी देते हैं |
  • अपने कमरे में थोड़ी ताज़ी हवा आने दें और कमरे को सुगन्धित करने के लिए एस्सेंसिअल ऑयल्स या हलके सेंट वाली मोमबत्ती जलाएं | (स्थिर सुगंध के लिए हवा में थोडा कोलोन या परफ्यूम छिडकने से कभी-कभी बहुत ही तेज़ और शक्तिशाली सुगंध फ़ैल जाती है) |

4. अंतरंगता (intimacy) के लिए तैयारी करें:

अगर आप किसी के साथ एक रोमांटिक शाम बनाने की योजना बना रहे हैं और आशा करते हैं कि उसका “मूड बन जाए” तो:

  • सबसे पहले कॉफ़ी या चॉकलेट खाना बहुत अच्छा होता है | इन दोनों की खाद्य पदार्थों को वाजीकारक (aphrodisiacs) माना जाता है क्योंकि ये सकारात्मक मूड की स्थिति को बनाने वाले एंडोर्फिन्स का उत्पादन करते हैं, ऊर्जा देते हैं (कैफीन के कारण), और शारीरिक क्रियाशीलता को बढ़ा देते हैं |
  • वाइन और अन्य प्रकार की शराब भी लोगों को रिलैक्स करने में मदद कर सकती हैं परन्तु, केवल कम मात्रा लेने की ही सिफारिश की जाती है | इन्हें अधिक मात्रा में लेने के फलस्वरूप पुरुषों में नामर्दी (impotence) हो सकती है | इनके अत्यधिक उपभोग से व्यक्ति मर भी सकता है या अपने होश खो सकता है | इन दोनों ही स्थितियों में, कोई सेक्सुअल लाभ नहीं मिल पायेगा बल्कि इसे गैरकानूनी यौन अपराध या बलात्कार माना जायेगा |

5. खोजें कि कौन सा सिनेरियो आपके और आपके साथी में जादू जगा सकता है:

सेक्स की इच्छा, अलग-अलग प्रकार के लोगों में अलग-अलग सिनेरियो से सम्बंधित होती है |

  • आपको इन सीन्स की हर डिटेल को फिर से बनाने की ज़रूरत नहीं है | थोड़े से काल्पनिक, तुरंत रचित भूमिका को निभाने, से आप उस सीन से एक या दो मुख्य अवयव शामिल कर सकते हैं जैसे कॉस्टयूम या एक प्रोप के रूप में और उस सिनेरियो को निर्मित कर सकते हैं जिससे संभवतः मूड बन जाए |
  • अगर आप अपने साथ के साथ भूमिका निभाने के लिए नए हों तो कभी-कभी अधिक समझदारी वाला दृष्टिकोण अपनाना बेहतर होता है | कई बार, किसी व्यक्ति की किसी चीज़ की केवल एक हिंट ही आपके साथी को उत्तेजित करने के लिए काफी होती है |

6. अगर ज़रूरत हो तो एक सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लें:

अगर आपको कोई ऐसी यौन समस्याएं हों जो आपकी सेक्स की इच्छा, सेक्स की शुरुआत करने या सेक्स का आनंद लेने को रोकती हों तो इन समस्याओं की उत्पत्ति मनोवैज्ञानिक मानी जा सकती है | अगर आपको लगता है कि आपको ये समस्याएं हो सकती हैं तो सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लें |

  • सेक्स थेरेपिस्ट इम्पोटेंस या यौन सुख की कमी जैसी समस्यायें जो संभवतः डायग्नोज़ न किये गये डिप्रेशन और किसी अन्य समस्या के कारण हो सकती हैं, का अलग-अलग तरह से उपचार करते हैं |
  • सेक्स थेरेपिस्ट दम्पति पर एक साथ या अलग-अलग टॉक थेरेपी को आजमाते हैं और कई बार, यौन क्रियाओं के सामान्य स्तर को फिर से लाने में मदद के लिए उन्हें थोडा “होमवर्क” भी देते हैं |
  • उदाहरण के लिए, सेक्स थेरेपिस्ट, एक दम्पति को बेड पर बिना अनुमान लगाये और एक-दूसरे को स्वीकार करने की भावना और विश्वास को फिर से बनाने के लिए बिना यौन सम्बन्ध बनाये अलग-अलग तरीकों से एक-दूसरे की अंतरंगता को बढाने के लिए प्रेरित कर सकते हैं | अधिकतर इस प्रकार के “होमवर्क असाइनमेंट” के पीछे का बेसिक आईडिया यह है कि सेक्स तनाव, दबाव और मायूसी से सम्बंधित अनुभव बन जाता है और तब आपको एक-दूसरे को ख़ुशी देकर और आनंद, एक-दूसरे की स्वीकार्यता और उसकी खोज के साथ फिर से अंतरंगता का सम्बन्ध स्थापित करना, सीखने की ज़रूरत होती है |

7.टेस्टोस्टेरोन के लेवल को बढाने के लिए स्ट्रेंथ और रेजिस्टेंस ट्रेनिंग का उपयोग करें: इससे निकटतम अन्य प्रकार के किसी उपचार की अपेक्षा सेक्स ड्राइव और सेक्सुअल परफॉरमेंस पर गज़ब का असर होगा |

  • टेस्टोस्टेरोन को बढाने के लिए की सबसे प्रभावशाली विधि और उससे लम्बे समय तक बनी रहने वाली सेक्स की इच्छा के लिए और पुरुष और महिला दोनों में ही मसल्स मास बनाने के लिए स्ट्रेंथ और रेजिस्टेंस ट्रेनिंग की शुरुआत करना चाहिए | जब भी आप कमज़ोर पड़ जाएँ और वेट लिफ्टिंग या रेजिस्टेंस एक्सरसाइज जैसे पुशअप्स करके फिर से मसल्स बनाते हैं तो आप कई घंटों के लिए अपने टेस्टोस्टेरोन स्तर को बढ़ा लेते हैं |
  • पुरुष और महिला दोनों में ही नियमित रूप से एक्सरसाइज करने के फलस्वरूप मसल्स के फी से बनने और उससे टेस्टोस्टेरोन के उत्पादन के उत्तेजित होने के कारण सेक्स में रूचि और सुख बढ़ना देखा गया है |
  • अक्सर, व्यायाम के बाद या दौरान टेस्टोस्टेरोन और सेक्स ड्राइव के बढ़ने को तुरंत नोटिस किया जा सकता है | कई दम्पतियों के लिए, एक साथ व्यायाम करना, उनके मूड को उतेजित करने वाला अनुभव बन सकता हैं |
  • स्ट्रेंथ और रेजिस्टेंस ट्रेनिंग के साथ जब स्वस्थ, पोषक तत्वों से भरपूर डाइट को शामिल किया जाता है (जिसमे खूब सारे लीन प्रोटीन और विभिन्न प्रकार के फल और सब्जियां शामिल होते हैं) तो पुरुष और महिला दोनों में ही अतिरिक्त चर्बी को कम किया जा सकता है (क्योंकि अधिक वज़न से मोटापा होने पर टेस्टोस्टेरोन का सतर कम हो जाता है) |
  • आवश्यक स्ट्रेंथ और रेजिस्टेंस ट्रेनिंग टेस्टोस्टेरोन को बढाने और पुरुष और महिल दोनों में ही सेक्स की इच्छा को बढाने के कारण एक अच्छी सेक्स लाइफ देने में सहायक होती है:
  • इससे परफॉरमेंस, गति की रेंज और धैर्य बढ़ता है;
  • मूड, आत्मविश्वास और ऊर्जा का स्तर बढ़ता है;
  • और आपको अधिक जवान और आकर्षक लुक दें और अनुभव कराने में मदद करती है |

8. अपनी और अपने साथी की सेक्स की इच्छा के होने वाले उन उतार-चड़ाव को स्वीकारें जो उम्र और विकासात्मक अवधि में होने वाले बदलावों से सम्बंधित होते हैं :

  • अगर आप एक पुरुष हैं तो शायद आपकी सेक्स में उतनी रूचि नहीं होगी जितनी आपकी 18 वर्ष की आयु में थी | अगर आप महिला हैं तो 30 वर्ष की होते-होते आपका सेक्स के प्रति आनंद और रूचि का स्तर बढ़ता है और 60 वर्ष की उम्र होते-होते कम होता जाता है:
  • महिलाओं में उनके बीसवें, तीसवें और प्रारंभिक चालीसवें वर्ष की आयु की अपेक्षा विशेषरूप से उनकी 18 और 25 वर्ष की आयु के बीच में सेक्स की रूचि कम देखी जाती है क्योंकि महिलाओं की सेक्सुअल पीक 30 वर्ष की आयु में होती है जबकि पुरुषों में यह 18 वर्ष की आयु में होती है |
  • यह पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए यह जानना बहुत जरुरी है कि महिलाओं की सेक्स ड्राइव लॉन्ग-टर्म कमिटेड रिलेशनशिप में आने पर इस अवधि के दौरान नाटकीय रूप से बढ़ जाएगी, विशेषरूप से अगर उनकी जल्दी शादी हो जाती है | इसी तरह, इसी समय अवधि के दौरान पुरुषों की सेक्स ड्राइव कम हो सकती है |
  • 20 साल की आयु वाले हेटेरोसेक्सुअल कपल शादी करने पर शुरुआत में अलग-अलग सेक्स ड्राइव अनुभव कर सकते हैं, लेकिन देखा गया है कि महिला की सेक्स ड्राइव पुरुष की सेक्स ड्राइव को दबा देती है जिससे ये समय के साथ मिलते हैं और हट जाते हैं |
  • महिला हो या पुरुष दोनों ही अपने साठ वर्ष की आयु तक सेक्स में कमी अनुभव करने लगते हैं, लेकिन यह महिलाओं में अधिक देखा जाता है |

पुरुषों में यौन शक्ति बढ़ाये एक्सट्रीम कैप्सूल

एक्सट्रीमएक्स कैप्सूल एक हर्बल लिंग इज़ाफ़ा दवा है, शुद्ध और शक्तिशाली जड़ी बूटियों से बना, विशेष रूप से यौन मुद्दों के प्रसिद्ध और विशेषज्ञ विशेषज्ञ द्वारा बनाई गई है, हकीम हाशमी जी यह दवा उन सभी पुरुषों के लिए एक आदर्श उपचार है जो अपने जीवन में किसी भी तरह के यौन मुद्दों का सामना करते हैं। चाहे यह एक छोटी संभोग समय की समस्या या नरम निर्माण समस्या, कम कामेच्छा या यौन सुख में विफलता है, यह दवा सबसे सुखदायक और सुरक्षित तरीके से सभी यौन समस्याओं को हल करने के लिए बनाई गई है।

एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग डेढ़ महीने तक इसका सेवन कर रहे हैं, वे अपने यौन स्वास्थ्य में बहुत अच्छे परिणाम पा रहे हैं। आप केवल हश्मी डॉक्टर से परामर्श करके  इसका सेवन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *