पुरुषों के लिए Kegel Exercise जानिए कैसे स्‍खलन की समस्‍या दूर करे !

पुरुषों के लिए Kegel Exercise जानिए कैसे स्‍खलन की समस्‍या दूर करे !

कीगल एक्‍सरसाइज Kegel Exercise  करने के कई सारे फायदे हैं। पेल्विक पुरूषों के शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है जो मूत्राशय, आंत की मांसपेशियों और सेक्सयुअल अंगों को जोड़ता  है।

कीगल एक्‍सरसाइज की खोज

डॉक्‍टर अर्नाल्ड कीगल ने इस एक्‍सरसाइज की खोज की है। यह एक्‍सरसाइज गर्भवती महिलाओं की मूत्र असंयम को नियंत्रित करने और बच्चे के जन्म के बाद जल्‍दी ठीक होने में मदद करती है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों में यह बात साबित हुई है कि कीगल एक्‍सरसाइज पुरुषों की समय पूर्व स्‍खलन की समस्‍या को कम में भी मदद करती है।

क्‍या है कीगल एक्‍सरसाइज

 

जननांगों की एक्सरसाइज को कीगल एक्सरसाइज कहते हैं। इसको करने से पेल्विक एरिया (पी सी) की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। जिससे यौन अंग प्रोत्साहित होते हैं। मजबूत पेल्विक मांसपेशियों पुरुषों और महिलाओं दोनों की यौन प्रतिक्रिया में एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

कैसे केगल एक्सरसाइज पुरूषों को  मदद करती  है

नीचे की मांसपेशिया कई कारण से कमजोर हो जाती हैं जैसे मोटापा, सर्जरी या  बढ़ती उम्र जिसकी वजह से पेशाब को रोकने में समस्या होती है। इसके अलावा लिंग में तनाव की भी दिक्कत होती है।

कीगल एक्‍सरसाइज अगर रोजाना की जाये तो कमजोर पेल्विक मसल्स से निजात मिल सकता है।

केगल एक्सरसाइस से पुरुषों को इन दिक्कतों में मदद मिल सकती है-

  • ओवरएक्टिव ब्लैडर
  • यूरिनेरी इंकोंटिनेंस (प्रोस्टेट  सर्जरी के बाद)
  • यूरिनेरी ड्रिबलइंग
  • फिकल इंकाटिनेंस
  • इरेक्टल डिसिफंग्शन
  • जल्दी स्‍खलन की समस्‍या

कैसे कर सकते हैं कैगल एक्सरसाइज

इसके लिए जरूरी है कि अपनी पेल्विक फलोर मसल को पहचानें तो पता चलेगा कि किस पर व्यायाम करना है। इनको देखा नहीं जा सकता है मगर इनको महसूस किया जा सकता है।

महसूस करें कि आपका यूरिन ब्लैडर भरा हुआ है और पेशाब लगी है, मगर आसपास कोई टायलट नहीं है। अपनी  मांसपेशियों को कसें और पेशाब को रोकने की कोशिश करें। ये आपकी पेल्विक मांसपेशियां हैं।

जब आप पेशाब कर रहे हों , पेशाब के बहाव को धीमा करने की कोशिश करें। जिन मांसपेशियों को कसकर आप पेशाब रोकने की कोशिश करते हैं वो ही पेल्विक मसल्स होती हैं। पेशाब को तभी रोक पाएंगे जब आप अपनी  मसल्स को पहचान पाएंगे , मगर ऐसा बार-बार न करें।

महसूसर करें कि आपको लैटरीन आई है या गैस निकलने वाली है, मगर आपको रोकना है। उन मांसपेशियों में कसावट लाएं जिससे आप शौच को रोकने की कोशिश करते हैं। ये भी पेल्विक मसल्स का हिस्सा है।

पेल्विक मसल्स का व्यायाम

एक बार अगर आपको आपके पेल्विक मसल्स का पता चल जाएगा। उसके बाद आप आराम से व्यायाम कर सकेंगे।

लेटकर व्यायाम

पीठ के बल लेट जाएं और घुटने को थोड़ा मोड़ लें। अब अपने पेल्विक मसल्स को 10 सेकेंड के लिए कसें फिर दस सेकेंड के लिए रिलैक्स करें।

बैठकर व्यायाम

कुर्सी पर बैठें और घुटने फैला दें ,.अब अपनी पेल्विक मसल्स को सिकोड़ें और घुटने को ऊपर उठायें। दस सेकेंड के लिए रोकें फिर दस सेकेंड के लिए आराम करें।

खड़े होकर

पैर को फैलाकर खडे़ रहें और महसूस करें कि पेशाब रोकने और गैस रोकने की कोशिश कर रहे हैं। दस सेकेंड के लिए रोकें और फिर रिलैक्स करें।

इन बातों का ध्यान रखें कीगल एक्‍सरसाइज के दौरान

कीगल एक्‍सरसाइज करने के पहले अपना ब्लैडर खाली रखें।

अपनी सांस न रोकें, गहरी सांस लें और अपने शरीर को आरामदायक अवस्था में रखें।

अपने मसल्स को दबाएं नहीं बल्कि महसूस करें कि आप उसे उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

पेट, नितंब और जांघों की मसल्स को कसने की कोशिश न करें। अगर ध्यान नहीं देंगे तो गलत तरीके से करने पर कमर, पेट और जांघों में दर्द महसूस हो सकता है।

हर दबाव के बाद पेल्विक मसल्स को आराम भी दें।

अलग-अलग अवस्था में व्यायाम करें जैसे लेटकर, बैठकर और खडे़ होकर

शुरुआत में पांच सेकेंड के लिए दबाव बनाएं और पाच सेकेंड आराम करें। फिर धीरे -धीरे इसे 10 सेकेंड तक करे।

तुरंत परिणाम की अपेक्षा न करें, न ही अधिक एक्सरसाइज करें। इससे पेशाब लीक होने की समस्या बढ सकती है।

कैगल एक्सरसाइज बनाये सेक्स लाइफ बेहतर

कीगल एक्‍सरसाइज करने से आपके यौन अंगों में रक्त के प्रवाह में सुधार होता है। जिससे पेल्विक एरिया की मसल्स मजबूत होती है और आपकी सेक्‍स जीवन में सुधार होता है। आप अधिक सुखद और आर्गेज्‍म की प्राप्ति आसानी से कर सकते हैं।और पढ़े:- जाने गलत तरीके से kegel exercise करने से क्या समस्या हो सकती है… 

कितनी बार दोहराएं

जितनी बार मसल्स पर दबाव बनाएंगे वो एक केगल एक्सरसाइज होती  है। दिन भर में 10 से 20 बार प्रेशर  देना चाहिए इसके लिए दिन में इसे तीन से चार बार करना चाहिए। इसे करने के पहले प्रेक्टिस करना जरूरी है इसे दिन में कभी भी और कहीं भी आरामदायक अवस्था में किया जा सकता है।

अधिकतर लोग इसकी शुरुआत लेटकर या कुर्सी पर बैठकर करते हैं । किसी प्रकार के बदलाव को देखने के लिए 4 से 6 सप्ताह तक इंतजार करना पड़ता है। इसके अलावा इसका फायदा तीन महीने में नजर आता है।

एक बार जब आपको इस अवस्था में व्यायाम करना आरामदायक लगने लगे, तब आप उस अवस्था में भी  व्यायाम कर सकते हैं जब यूरिन निकलने की आशंका रहती है जैसे-

टहलते वक़्त

  • खांसने और छीकने के पहले
  • जब टायलेट के लिए जाएं तब रास्ते में
  • जब बैठने की अवस्था से खड़े होते हैं

कई तरह की  केगल एक्सरसाइज

  • फास्ट पंप मसल्स को कसें तेजी से और रिलेक्स करें बिना ज्यादा देर रूके फिर दोहराएं।
  • रोकना  पेल्विक मसल्स पर दबाव दें और प्रेशर को जितना देर हो सके रोकें।
  • रिवर्स केगल मसल्स पर दबाव देने के बजाय मसल्स को आराम दें, यूरिन या टायलेट करने की कोशिश कर रहे हैं ऐसा महसूस करें।
  • टहलते वक्त जब टहलने अपने पेल्विक मसल्स उठाने की कोशिश करें।
  • पेशाब करने के बाद पेशाब के बाद अपने पेल्विक मसल्स में तनाव लाएं।
  • सेक्स के दौरान  सेक्स के दौरान पेल्विक मसल्स में तनाव लाएं, इससे लिंग में तनाव बना रहेगा।

स्खलन से बचने के लिए करे

कीगल एक्‍सरसाइज Kegel Exercise से पुरुषों के हिप्स की मांसपेशियां मजबूत होती है। जिससे पुरुष जल्दी डिस्चार्ज होने की समस्या बच  सकते हैं। और आप देर तक सेक्स को एंज्वॉय कर सकते हैं।और पढ़े:-शीघ्रपतन की समस्या जड़ से ख़त्म करे ऐसे…

स्तंभन दोष दूर करें

स्तंभन दोष नपुंसकता (इरेक्टाइल डिसफंक्शन)की समस्‍या तब होती है जब लिंग को र्प्‍याप्‍त मात्रा में रक्त की पूर्ति नहीं होती है। कीगल एक्‍सरसाइज Kegel Exercise पेल्विक क्षेत्र में रक्त के प्रवाह में सुधार करके इस समस्‍या से निपटने में आपकी मदद कर सकता है।

मूत्र असंयम की समस्‍या से निजात 

गर्भवस्‍था या डिलिवरी के एकदम बाद महिलाओं में होने वाली मूत्र असंयम की समस्‍या से कीगल एक्‍सरसाइज की मदद से काबू पाया जा सकता है। यह श्रोणि की मांसपेशियों को मजबूत बनाती है, जिससे असंयम को रोकने में मदद मिलती है। इसके अलावा यह नार्मल डिलीवरी करवाने में भी मदद करती है।

Kegel Exercise पुरुषों को कैसे करता है मदद

एक रिसर्च के अनुसार 55 पुरूषों पर इसका शोध किया गया, जिनकी उम्र लगभग 60 साल थी। उनमें से 28 लोगों ने पेल्विक फलोर का व्यायाम किया और 27 लोगों ने अपनी दिनचर्या में बदलाव किया। उसके बाद दोनों गु्रप की तुलना की गयी। और पढ़े: जाने लिंग का आकार कैसे बढ़ाये

जिन लोगों ने व्यायाम किया था  उनका परिणाम कुछ ऐसा रहा-

  • 40 प्रतिशत लोगों में इरेक्टिाइल फंग्शन में सुधार आया
  • 35 प्रतिशत में इरेक्शन (लिंग के तनाव)में सुधार आया
  • 25 प्रतिशत लोगों में कोई बदलाव नहीं दिखा

स्‍खलन की समस्‍या करे दूर

एक्सट्रीमएक्स कैप्सूल एक हर्बल लिंग इज़ाफ़ा दवा है, शुद्ध और शक्तिशाली जड़ी बूटियों से बना, विशेष रूप से यौन मुद्दों के प्रसिद्ध और विशेषज्ञ विशेषज्ञ द्वारा बनाई गई है, हकीम हाशमी जी यह दवा उन सभी पुरुषों के लिए एक आदर्श उपचार है जो अपने जीवन में किसी भी तरह के यौन मुद्दों का सामना करते हैं। चाहे यह एक छोटी संभोग समय की समस्या या नरम निर्माण समस्या, कम कामेच्छा या यौन सुख में विफलता है, यह दवा सबसे सुखदायक और सुरक्षित तरीके से सभी यौन समस्याओं को हल करने के लिए बनाई गई है।

एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग डेढ़ महीने तक इसका सेवन कर रहे हैं, वे अपने यौन स्वास्थ्य में बहुत अच्छे परिणाम पा रहे हैं। आप केवल हश्मी डॉक्टर से परामर्श करके  इसका सेवन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *