प्राइवेट पार्ट की सफाई कैसे रखे ?

प्राइवेट पार्ट की सफाई कैसे रखे ?

पुरुष और महिलाएं दोनों को अपने प्राइवेट पार्ट की सफाई  का विशेष ख्याल रखना चाहिए। शरीर को स्वस्थ्य रखने और हानिकारक बैक्टीरिया से बचाए रखने के लिए प्राइवेट पार्ट को स्वच्छ रखना बहुत ही  आवश्यक है। जननांगों की नियनित सफाई ये सुनिश्चित करती है कि आपके प्राइवेट पार्ट स्वस्छ व स्वस्थ रहते है। आपको बता दें कि गुप्तांगों (Private Parts) के पास कुछ बैक्टीरिया होते है जो कि आपको नुकसान नहीं पहुंचाते है लेकिन अगर उस जगह की सफाई नहीं की जाती है तो ये बैक्टीरिया बढ़ सकते है जो आपके स्किन के लिए और प्राइवेट अंगों के लिए अच्छा नहीं है। आइए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे है कि क्यों प्राइवेट पार्ट को साफ रखना जरूरी है। गंदगी के कारण प्राइवेट अंगों में होने वाली बीमारियां क्या है और इससे कैसे बच सकते है।

पुरुष जननांगों को कैसे स्वच्छ रखा जाए

  • प्राइवेट पार्ट को साफ रखने के लिए हर दिन इसे धोएं। पेनिस, स्कोर्टम, गुदा (anus) के साथ साथ प्यूबिक हेयर को नरम साबुन और पानी से धोना चाहिए।
  • पेशाब करने के बाद पेनिस को हल्का हिला देना चाहिए जिससे पेशाब की शेष बूंदें भी निकल जाए ।
  • पेशाब करने और मल त्याग के बाद अपने हाथ को अच्छे से साफ करना चाहिए।
  • पेनिस और अंडाकोष (testicles) की भी रोजाना सफाई करनी चाहिए जिससे प्यूबिक हेयर से पसीने की महक न आए।

निजी अंगों की त्वचा की सफाई

जब लड़का का जन्म होता है तो पेनिस की त्वचा ( foreskin) पीछे नहीं जाती है। ऐसे में युवा को पेनिस की त्वचा को पीछे करने की कोशिश नहीं करना चाहिए। बच्चा जब धीरे-धीरे बढ़ा होता है तो वह अपने आप ही पीछे चला जाता है। तब तक चमड़ी को रोजाना पानी से साफ करना चाहिए।

पेनिस की फोरे स्किन की सफाई

  • आपका साबुन केमिकल फ्री होने के साथ ही ज्यादा खूशबूदार नहीं होना चाहिए।
  • कभी-कभी पेनिस की त्वचा के पास सफेद, पीले तेल जैसे पदार्थ देखने को मिल सकते है जिसको स्मेग्मा ( Smegma) कहते है। इसकी सफाई करते रहना चाहिए। जिससे किसी भी प्रकार को दुर्गंध नहीं आए और कोई इंफेक्शन नहीं हो।
  • कई बार फोरे स्किन में सूजन की समस्या हो जाती है ऐसे में खुशबूदार साबुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए साथ ही ढीला अंडरवियर पहनना चाहिए।
  • बच्चों की बात करें तो समय समय पर डायपर (diapers) को बदलते रहना चाहिए।

इसे भी पढ़े:-लिंग का आकर बढ़ाये 1 महीने में 

पुरुष गुप्त अंगों की सफाई कैसे करें, प्राइवेट पार्ट को धोएं और सुखाएं !

जननांग क्षेत्र का त्वचा शरीर के अन्य क्षेत्रों से अलग नहीं है इसलिए दिन में कम से कम एक बार सफाई जरूर करनी चाहिए। प्राइवेट पार्ट में खुजली से बचने के लिए इस जगह को सूखा बनाए रखने का प्रयास करें। इसके अलावा सेक्सुअल इंटरकोर्स से पहले भी प्राइवेट पार्ट की सफाई करनी चाहिए जिससे किसी  भी प्रकार परेशानी नहीं आएँ।

इसे भी पढ़े:-  आप अपने लिंग स्वास्थ्य को कैसे बनाए रख सकते हैं?

अंडरवियर जरूर बदलें

पुरुषों को अपनी अंडरवियर रोजाना बदलनी चाहिए। इससे संक्रमण, जलन और गंध से बचने में मदद मिल सकती है। अगर आप भागदौड़ वाले काम करते है या फिर आपको पसीना ज्यादा आता है तो आप दोपहर में भी इसे बदले सकते है।

प्राइवेट पार्ट की जांच करते रहे

लिंग और टेस्टिकल की जांच समय-समय पर करते रहना चाहिए। किसी भी तरह की परेशानी मसलन, धाव, सूजन, लाली, मस्सा आदि के पाए जाने पर एक बार डॉक्टर को जरूर सम्पर्क करें। ये एसटीडी, कैंसर या अन्य समस्याओं के संकेत हो सकते है।

निजी अंगों को लेकर अपने साथी के साथ बात करें

सेक्सुअल हाइजीन के लिए अपने साथी के साथ बातचीत करना बहुत जरूरी है। संबंध बनाने से पहले दोनों को अपना टेस्ट करा लेना चाहिए जिससे की अगर कोई यौन संबंधी समस्या है तो उसे दूर किया जा सकें। अगर ऐसा करना संभव नहीं है तो प्रोटेक्शन के साथ यौन संबंध बनाना चाहिए।

इसे भी पढ़े:- प्रोस्टेट से जुड़ी कुछ ऐसी समस्याएं जो प्रोस्टेट कैंसर का कारण बन सकती है

अपने डॉक्टर से बात करें

यह अनुशंसा की जाती है कि हर साल कम से कम एक बार अपने डॉक्टर से चेकअप कराया जाए। डॉक्टर से मिलने के दौरान कोई भी बात नहीं छिपाए।

प्राइवेट पार्ट के प्यूबिक हेयर की करें सफाई

प्यूबिक हेयर की साफ सफाई बहुत जरूरी है। इस जगह पर ज्यादा पसीना आने के कारण बैक्टिरिया और वायरस अपना घर बना लेते  है। ऐसे में बीमारियों से बचने के लिए  प्यूबिक हेयर को रोजाना हल्के साबुन से साफ करें। अपने प्यूबिक हेयर को छोटे रखे और समय-समय पर उनकी ट्रिमिंग करते रहें।

महिलाएं ऐसे रखें अपने प्राइवेट पार्ट को साफ

हम सभी जानते है कि भारत में योनि और सेक्स के बारे में बात करना गलत माना जाता है। लेकिन आज धीरे-धीरे लोगों की मानसिकता में बदलाव आना शुरू हो गया है। लेकिन फिर भी महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट (Vagina) की स्वच्छता के बारे में बात करने से बचती है। योनि स्वच्छता को बनाए रखना बहुत जरूरी है जिसके लिए आपको इन बातों को ज्ञान होने बहुत जरूरी है।

महिलाएं गुप्त अंगों की सफाई कैसे करें

महिलाओं को योनि स्राव, पसीना या फिर पेशाब के बाद योनि को साफ नहीं करने के कारण जांघें गीली होती है। लंबे समय तक गीले रहने के कारण बैक्टिरिया के पनपने का खतरा रहता है। इतना ही नहीं इंफेक्शन या फिर बदबू की समस्या का भी खतरा रहता है। इसलिए योनि की सफाई करने के साथ ही इस जगह को सूखा रखना भी जरूरी है।

सेनेटरी नैपकिन को बदलते रहे

मासिक धर्म के समय अधिकतर महिलाएं सेनेटरी नैपकिन को काफी लंबे समय तक नहीं बदलती है। आपको बता दें कि सेनेटरी नैपकिन को हर  5 से 7 घंटे में बदलना चाहिए। अगर सैनेटरी नेपकिंग लंबे समय तक पहने जाते है तो चकत्ते या फिर गंध के साथ इन्फेक्शन का कारण बन सकता है।

पीएच लेवल को मैंटेन रखना जरूरी

योनि खुद को बेक्टिरिया और इंफेक्शन से बचाने के लिए एक उचित तपमान , पीएच और नमी को बनाए रखने में मदद करती है। आम तौर पर, योनि का पीएच स्तर लगभग 3.8 से 4.5 होता है, जो कठोर साबुन या रासायनिक पदार्थ का उपयोग करने पर काफी बदल सकता है जिससे योनि को नुकसान पहुंच सकता है। पीएच लेवल को बनाए रखने के लिए माइल्ड साबुन को उपयोग करना चाहिए। कभी भी कठोर साबुन का इस्तेमाल योनि में ना करें। बाजार में योनि की सफाई के अन्य उत्पाद भी मौजूद हैं आप उनका भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

संभोग के बाद करे योनि की सफाई

इंफेक्शन से बचना है तो संभोग के बाद योनि की सफाई करना बहुत जरूरी है। बॉडी फ्यूल्ड और कोडम के कुछ पार्टिकल योनि में संक्रमण का कारण बन सकता है। इसलिए, योनि को संक्रमण और बैक्टीरिया से सुरक्षित रखने के लिए हल्के साबुन और पानी के साथ साफ करना बहुत महत्वपूर्ण है।

योनी के प्यूबिक हेयर की सफाई करें

प्यूबिक हेयर की सफाई करते रहे,  कोशिश करें कि प्राइवेट एरिया में बाल छोटे हो या फिर नहीं हो। जिससे पसीने से होने वाली खुजली से निजात मिल सके। प्यूबिक हेयक को साफ करने के लिए हमेशा नया ब्लेड का उपयोग करें।

ऊपर लेख में आपने जाना की गुप्त अंगों की सफाई कितनी आवश्यक होती है इसलिए आप अपने प्राइवेट पार्ट को साफ रखे और रोगों से दूर रहें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *