बिना डॉक्टर करें मधुमेह को कंट्रोल- योग, आहार और आसान घरेलु नुस्खे

बिना डॉक्टर करें मधुमेह को कंट्रोल- योग, आहार और आसान घरेलु नुस्खे

डॉयबिटीज कम करने के लिए आपने दवाईयां का तो बहुत सहारा लिया होगा, लेकिन यहां हम बात कर रहें है कुछ कसरत, योगा और आहार एंव सरल घरेलु उपायों की, जिनसे आप बिना दवाईयों के भी डॉयबिटीज (diabetes) को कंट्रोल में रख सकते हैं।

धूम्रपान से करें परहेज़- धूम्रपान का असर दिल और हार्मोन पर होता है। परहेज़ से सेहत ठीक रहेगी और बीमारी भी कंट्रोल में रहेगी।

कसरत- कसरत से ग्लूकोज़ के खपत की क्षमता बढ़ती है, जिससे ख़ून में शुगर लेवल कम हो जाता है। छह किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से चलने पर 30 मिनट में 135 कैलोरी खर्च होती है। साइकिलिंग करने से भी शरीर में ग्लूकोज़ खपत करने की क्षमता बढ़ती है।

योगा- नियमित रूप से करें यह बताए आसन- कपालभाती, अनुलोम-विलोम, पश्चिमोत्तानासन, चक्रासन और सूर्यनमस्कार।

डायबिटिक मरीज़ रखें अपने आहार का ध्यान-

1. भोजन में प्रोटीन, वसा और कार्बोहाइड्रेट की अधिकता से डायबिटीज़ की संभावना बढ़ती है।

2. चावल, आलू, दाल,वनस्पति तेल, मांस, डेयरी उत्पाद बहुत अधिक मात्रा में खाने से पाचनशक्ति कमज़ोर होती है, जो डायबिटीज़ का ख़तरा बढ़ाती है।

3. विटामिन ए, बी और सी डायबिटीज़ से लड़ने में सहायक होते हैं। भोजन में इनकी मात्रा का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए।

4. भोजन पोषण की ज़रूरत के मुताबिक हो, जिसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम हो, पर बाक़ी चीज़ें उचित मात्रा में हों।

5. मिठाई से परहेज करें ।

6. पपीता, सेब, संतरा, नाशपाती और अमरूद जैसे फाइबर वाले फल लें। आम, केले व अंगूर का सेवन कम करें, इनमें शुगर ज़्यादा होती है।

7. अंकुरित सब्ज़ियां व साबूत अनाज, चना, बाजरा, जई, फाइवर भी खाने में शामिल करें।

8. मटर, सेम, ब्रोकली, पालक और हरी पत्तेदार जैसी उच्च फाइबर वाली सब्ज़ियां भी खाने में शामिल करें।

9. अंकुरित सब्ज़ियां व साबूत अनाज, चना, बाजरा, जई, फाइवर भी खाने में शामिल करें।

10. छोटे अंतराल पर भोजन करें। अचानक ज़्यादा खाने से शुगर लेबल बढ़ता है।

घरेलू उपचार-

1. मेथी डायबिटीज़ पर अंकुश रखती है। रात को एक चम्मच मेथी का दाना एक गुनगुने पानी में भिगो दें। सुबह बिना मुंह साफ किए उसे चबा डालें और पानी चाय की तरह पी लें। दो-तीन महीने में डायबिटीज़ नियंत्रित हो जाता है।

2. टमाटर का रस बनाकर उसमें काली मिर्च और नमक डालकर सुबह खाली पेट पीयें।

3. बादाम के सेवन से भी डायबिटीज़ कंट्रोल में रहता है। छह बादाम शाम को पानी में भिगो दें। सुबह खाएं।

4. प्रतिदिन दो बार एक चम्मच पिसी हुई हल्दी की फंकी मारकर ऊपर से पानी पी जाएं।

5. प्रतिदिन सुबह के समय निहार मुंह ताजे आंवले का रस एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करना चाहिए।

6. बेल के पत्तों का रस दो चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन पीने से मधुमेह के रोगी को काफी आराम मिलता है।

7. आम की 10-15 कलिंया नित्य भोजन के बाद चबानी चाहिए।

8. 5 ग्राम मेथीदाना तथा 5 ग्राम सूखा करेला – दोनों को पीसकर चूर्ण बना लें। सुबह के समय निहार मुंह पानी के साथ-साथ यह चूर्ण खाएं।

9. मुंगफली के आटे की रोटी सुबह के समय खानी चाहिए।

10. जामुन के पत्ते चबाने से मधुमेह का रोग कम होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *