यौन शक्ति बढ़ाए शतावरी

यौन शक्ति बढ़ाए शतावरी

  • लेटिन भाषा में शतावरी को असपारगस-रेसेमेसस कहा जाता है।
  • शतावरी स्त्री व पुरुष दोनों के ही लिए काफी उपयोगी होती है।
  • इसके सेवन से प्रीमैच्योर इजेकुलेशन (स्वप्न-दोष) में लाभ होता है।
  • शतावरी के सेवन से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लेना चाहिए।

शतावरी को लेटिन भाषा में असपारगस-रेसेमेसस भी कहा जाता है। इसका पौधा उत्तर भारत में अधिक पाया जाता है। दरअसल इसकी जड़ को औषधि की तरह प्रयोग किया जाता है। शरीर में बल और वीर्य को बढ़ाने के लिए शतावरी की जड़ का प्रयोग किय जाता है। यूं तो शतावरी स्त्री व पुरुष दोनों ही के लिए उपयोगी और लाभप्रद गुणों वाली जड़ी है, लेकिन फिर भी यह स्त्रियों के लिए विशेष रूप से गुणकारी व उपयोगी होती है।

क्या है शतावरी

शतावरी एक चमत्कारी औषधि है जिसे कई रोगों के इलाज में उपयोग किया जाता है। खासतौर पर सेक्स शक्ति को बढ़ाने में इसका विशेष योगदान होता है। यह एक झाड़ीनुमा पौधा होता है, जिसमें फूल व मंजरियां एक से दो इंच लम्बे एक या गुच्छे में लगे होते हैं और मटर जितने फल पकने पर लाल रंग के हो जाते हैं। आयुर्वेद के मुताबिक, शतावर पुराने से पुराने रोगी के शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। इसके अलावा इसका उपयोग विभिन्न नुस्खों में व्याधियों को नष्ट कर शरीर को पुष्ट और सुडौल बनाने में  किया जाता है।

यौन शक्ति के लिए शतावरी

शतावरी को शुक्रजनन, शीतल, मधुर एवं दिव्य रसायन माना जाता है। महर्षि चरक ने भी शतावरी को चिर यौवन को कायम रखने वाला माना था। आधुनिक शोध भी शतावरी की जड़ को हृदय रोगों में प्रभावी मानते हैं। शतावरी के लगभग 5 ग्राम चूर्ण को सुबह और रात के समय गर्म दूध के साथ लेना लाभदायक होता है। इसे दूध में चाय की तरह पकाकर भी लिया जा सकता है। यह औषधि स्त्रियों के स्तनों को बढ़ाने में मददगार होती है। इसके अलावा शतावरी के ताजे रस को 10 ग्राम की मात्रा में लेने से पुरुषों में वीर्य बढ़ता है। शतावरी मूल का चूर्ण 2.5 ग्राम को मिश्री 2.5 ग्राम के साथ मिलाकर पांच ग्राम मात्रा में रोगी को सुबह शाम गाय के दूध के साथ देने से प्रमेह, प्री-मैच्योर इजेकुलेशन (स्वप्न-दोष) में लाभ मिलता है। यही नहीं शतावरी की जड़ के चूर्ण को दूध में मिलाकर सेवन करने से धातु वृद्धि भी होती है।

लेकिन यदि आप पहले से किसी चिकित्सकीय स्थिति जैसे, अवसाद या तनाव, गर्भावस्था आदि से गुजर रहे हैं तो आपको इसे लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लेना चाहिए।

आप एक्स्ट्रीमक्स कैप्सूल का भी इस्तेमाल कर सकते है

एक्सट्रीमएक्स कैप्सूल एक हर्बल लिंग इज़ाफ़ा दवा है, शुद्ध और शक्तिशाली जड़ी बूटियों से बना, विशेष रूप से यौन मुद्दों के प्रसिद्ध और विशेषज्ञ विशेषज्ञ द्वारा बनाई गई है, हकीम हाशमी जी यह दवा उन सभी पुरुषों के लिए एक आदर्श उपचार है जो अपने जीवन में किसी भी तरह के यौन मुद्दों का सामना करते हैं। चाहे यह एक छोटी संभोग समय की समस्या या नरम निर्माण समस्या, कम कामेच्छा या यौन सुख में विफलता है, यह दवा सबसे सुखदायक और सुरक्षित तरीके से सभी यौन समस्याओं को हल करने के लिए बनाई गई है।

एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग डेढ़ महीने तक इसका सेवन कर रहे हैं, वे अपने यौन स्वास्थ्य में बहुत अच्छे परिणाम पा रहे हैं। आप केवल हश्मी डॉक्टर से परामर्श करके  इसका सेवन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *