यौन शक्ति बढ़ाये इन चीजों के साथ

यौन शक्ति बढ़ाये इन चीजों के साथ

आज कल यौन दुर्बलता एक गंभीर समस्या है क्योंकि  आज  के युग में हमारे प्रदूषित खान -पान की वजह से और स्वयं के गलत हरकतों के कारण युवक-युवतियां असमय ही दुर्बलता के शिकार होते जा रहे है। युवक-युवतियां इस तरह की समस्याओं में डॉक्टर के पास जाने से घबराते हैं। वो सोचते है डॉक्टर क्या सोचेगा। इस के परिणाम स्वरुप यौन दुर्बलता को बढ़वा मिलता है।

तुलसी :

15 ग्राम तुलसी के बीज और 30 ग्राम सफेद मुसली लेकर चूर्ण बनाएं, फिर उसमें 60 ग्राम मिश्री पीसकर मिला दें और शीशी में भरकर रख दें। 5 ग्राम की मात्रा में यह चूर्ण सुबह-शाम गाय के दूध के साथ सेवन करें इससे यौन दुर्बलता दूर होती है।

लहसुन :

200 ग्राम लहसुन पीसकर उसमें 60 मिली शहद मिलाकर एक साफ-सुथरी शीशी में भरकर ढक्कन लगाएं और किसी भी अनाज में 31 दिन के लिए रख दें। 31 दिनों के बाद 10 ग्राम की मात्रा में 40 दिनों तक इसको लें। इससे यौन शक्ति बढ़ती है।

इसे भी देखें:-लिंग को बड़ा करना चाहते है तो देखे ये वीडियो

जायफल : 

एक ग्राम जायफल का चूर्ण प्रातः ताजे जल के साथ सेवन करने से कुछ दिनों में ही यौन दुर्बलता दूर होती है।

दालचीनी :

 दो ग्राम दालचीनी का चूर्ण सुबह-शाम दूध के साथ सेवन करने से वीर्य बढ़ता है और यौन दुर्बलता दूर होती है।

खजूर :

 शीतकाल में सुबह दो-तीन खजूर को घी में भूनकर नियमित खाएं, ऊपर से इलायची – शक्कर डालकर उबला हुआ दूध पीजिए। यह उत्तम यौन शक्तिवर्धक है।

पुरुषों में यौन शक्ति बढ़ाये एक्सट्रीम कैप्सूल

एक्सट्रीमएक्स कैप्सूल एक हर्बल लिंग इज़ाफ़ा दवा है, शुद्ध और शक्तिशाली जड़ी बूटियों से बना, विशेष रूप से यौन मुद्दों के प्रसिद्ध और विशेषज्ञ विशेषज्ञ द्वारा बनाई गई है, हकीम हाशमी जी यह दवा उन सभी पुरुषों के लिए एक आदर्श उपचार है जो अपने जीवन में किसी भी तरह के यौन मुद्दों का सामना करते हैं। चाहे यह एक छोटी संभोग समय की समस्या या नरम निर्माण समस्या, कम कामेच्छा या यौन सुख में विफलता है, यह दवा सबसे सुखदायक और सुरक्षित तरीके से सभी यौन समस्याओं को हल करने के लिए बनाई गई है।

एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग डेढ़ महीने तक इसका सेवन कर रहे हैं, वे अपने यौन स्वास्थ्य में बहुत अच्छे परिणाम पा रहे हैं। आप केवल हश्मी डॉक्टर से परामर्श करके  इसका सेवन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *