लिंग की नसों मे कमज़ोरी और ढीलापन को करे दूर

लिंग की नसों मे कमज़ोरी और ढीलापन को करे दूर

युगलो के बीच मे शारीरिक संबंध हो और संभोग करे ये प्राकृतिक बात है| संभोग को सफल बनाने के लिए पहले तो दोनो में उत्तेजना होना ज़रूरी है और खास कर के पुरुष मे| जब पुरुष उत्तेजित हो जाता है तो लिंग खड़ा होता है और तब वो संभोग करे तो खुद को और अपने साथी को आनंद और संतुष्टि दे सकता है|

आज कल ऐसे किससे बढ़ते जाते है जिसमे पुरुष जवान हो मगर उसके लिंग मे सही उत्तेजना और उत्थान नहीं आता है या तो लिंग जल्दी खड़ा और जल्दी डाउन होना ऐसा हो जाता है| इससे खुद भी परेशान होते है और साथी भी| जानिए नसों मे कमज़ोरी और लिंग के ढीलेपन का कैसे इलाज करे और फिर से अपने लिंग को कड़क करके ठीक रख सके|

लिंग की नसों मे कमज़ोरी ढीलापन के कारण –

  • पुरुष कामोत्तेजित हो जाता है तो लिंग खड़ा हो जाता है|
  • इसमे ज्ञान तंत्र का भी काम होता है की वो सही संकेत भेजे जिससे लिंग की खून नली (corpus cavernosa) में खून जमा हो जाता है, वाल्व बंद होता है और संभोग के लिए लिंग सक्षम हो जाता है|
  • ऐसा ना हुआ तो लिंग ढीला रहता है और इसे लिंग प्राब्लम कहते है|
  • कई पुरुषो में लिंग जल्दी खड़ा और जल्दी डाउन होना ऐसी परिस्थिति भी होती है तो कई पुरुषो मे लिंग कठोर ही नहीं होता है|
  • नसों की कमज़ोरी के पीछे मानसिक और शारीरिक कारण हो सकते है|

लिंग की नसों मे ढीलापन के शारीरिक कारण –

  • नसों की कमज़ोरी या तो लिंग मे तनाव नहीं आता है तो इसके पीछे शारीरिक कारण हो सकते है|
  • इंद्रियो और ग्रंथियो का ठीक से काम ना करना, हॉर्मोन्स की कमी होना|
  • कोलेस्ट्रॉल ज़्यादा हो, चर्बी बढ़ जाए शरीर में, उच्च रक्तचाप हो, बीमारी हो तो भी लिंग प्राब्लम होती है और नसों मे कमज़ोरी आ जाती है|
  • लिंग की बीमारी और अंडकोष के कारण भी लिंग ठीक से खड़ा नहीं होता है|
  • आहार सहीं लेना, श्रम ज़्यादा करना, यह भी लिंग की नसों की कमज़ोरी का कारण है|
  • यकृत मे बीमारी, गुर्दे मे बीमारी, प्रॉस्टेट(prostate) में सूजन, रीड की हड्ड़ी पर चोट लगना यह भी शारीरिक कारण है लिंग की नसों की कमज़ोरी के|
  • व्यक्ति अगर शराब ज़्यादा पिए, नशीले पदार्थ, तंबाकू, कोला, कॉफी और चाय का सेवन करे तो भी लिंग प्राब्लम खड़ी हो जाती है|
  • शारीरिक स्वस्थता व्यायाम से होती है और बैठे बैठे जीवन गुज़ारे तो मासपेशिया ढीली हो जाती है और लिंग भी|

लिंग की नसों में कमज़ोरी के मानसिक कारण –

नसों की कमज़ोरी के कारण मानसिक भी हो सकते है|

  • पुरुष अगर ज़्यादा तनाव भरी जिंदगी जीता है या तो डिप्रेशन(depression) का शिकार हो गया है तो लिंग मे तनाव नहीं आता है|
  • ज़्यादा पोर्न (porn) देखे तो भी लिंग उत्तेजना और उत्थान आसानी से नहीं हो पाता है|
  • संभोग के समय संकोच और देर रहे तो लिंग खड़ा नहीं होता है ठीक से|
  • पार्ट्नर पसंद ना हो और घृणा हो तो दिलचस्पी नहीं रहती है और लिंग खड़ा नहीं होता है|
  • ज्ञानतंतु संबंधित रोग हो जैसे अल्झाइमर (alzheimer) और पार्किंसन (parkinson) तो भी यह तकलीफ़ होती है|
  • दिमागिया हालत असंतुलित हो|
  • इंसान बेचैन और परेशान हो तो भी लिंग खड़ा नहीं होता है|

लिंग की नसों मे कमज़ोरी ढीलापन की पहचान कैसे करे –

  • खुद ही आप पहचान सकेंगे की आपका लिंग ढीला होता जाता है की नहीं|
  • लिंग मे तनाव जल्दी से नहीं आता है यह एक लक्षण है|
  • लिंग जल्दी खड़ा होना और जल्दी डाउन होना यह भी एक चिन्ह् है|
  • लिंग जितना होना चाहिए उतना कठोर नहीं होता है|
  • यह सभी लिंग प्राब्लम इन हिन्दी है जिसके लिए डॉक्टरी जाँच ज़रूरी है|
  • लिंग की नसों का डॉक्टर कई ऐसे परीक्षण करेगा यह जानने के लिए की पीछे के राज़ क्या है|
  • पहले तो ब्लड टेस्ट करवाएगा और फिर टेस्टोस्टेरोन(testosterone) और प्रोलैक्टिन(prolactin) हॉर्मोन का खून मे कितना स्तर है|
  • फिर नींद मे और रात में लिंग कितना कठोर होता है इसका सवाल होगा|
  • पेशाब की जाँच होगी यह जानने के लिए कहीं प्रोटीन ज़्यादा तो नहीं आता है|
  • मानसिक परीक्षण भी होगा की दिमागिया हालत तो लिंग के ढीलेपन का कारण नहीं है और फिर होगा इलाज|

लिंग उतेजना कैसे होती है –

  • नसों की कमजोरी का इलाज करे उसके पहले जानिए लिंग उत्तेजना कैसे होती है|
  • लिंग मे है कार्पस कैवर्नोसा(corpus cavernosa)|
  • स्पर्श से या तो नज़र से दिमाग़ और स्वायत तंत्रिका (autonomous nervous system) लिंग उत्तेजना की क्रिया शुरू करते है|
  • हॉर्मोन्स का स्त्राव होता है और लिंग की मासपेशिओ मे और खून मे नाइट्रिक ऑक्साइड (nitric oxide)का प्रमाण बढ़ जाता है
  • कार्पस कैवर्नोसा(corpus cavernosa) के अंदर लहू का बहाव बढ़ जाता है और एकत्रित होता है जिससे लिंग कठोर होने लगता है|
  • यह खून लिंग मे ही जमा हो जाता है और वापस नहीं बह सकता है क्योंकि लिंग के अंदर की मासपेशिअा लहू की नसों को दबाके रखती है|
  • ऐसे मे संभोग करे और लिंग को घर्षण मिलने पर उत्तेजाना आगे बढ़ती जाए तो एक सीमा आती है जब दिमाग़ और स्वायत तंत्रिका संदेश भेजती है और स्खलन होता है और फिर लिंग वापस ढीला हो जाता है|

लिंग की नसों मे कमज़ोरी ढीलापन दूर करने के घरेलू उपाय –

  • लिंग मे तनाव लाने के घरेलू उपाय मे पहले जीवन शैली को सुधारना ज़रूरी है|
  • लिंग मे तनाव के उपाय इन हिन्दी जानिए की शराब, गुटखा, तंबाकू, सिगरेट, चाय, कॉफी जैसे पदार्थो का सेवन बंद कर दे|
  • चीनी बंद कर दे और जंक फुड्स को बंद कर दे|
  • लिंग खड़ा करने के घरेलू उपाय में शरीर को डेटॉक्स(detox) करे और फिर आरोग्य वर्धक आहार जिसमे फल सब्जी, प्रोटीन हो ऐसा संतुलित आहार ले|
  • आहार में टमाटर, तरबूज, अखरोट, पालक, देसी घी, दूध, चिलगोज़ा, सौंफ, इलाइची, दालचीनी, लौंग, दाल, आमला, अंडे और माँस का सेवन करे|
  • साथ मे हरी मिर्च, लाल मिर्च और काली मिर्च भी लेते रहे क्योंकि यह उत्तेजना में सहायक है|
  • जीरा खाए और फलो मे खास अनार का रस पीते रहे और सब्जी मे सहजन के पत्ते और सहजन(drumstick)ले |
  • यह ध्यान में रखे की सभी विटामिन, खनिज पदार्थ और प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में मिले शरीर को|
  • नसों की कमजोरी के इलाज में व्यायाम करे हर रोज जिसमे केगेल(kegel) एक्सर्साइज़ अवश्य करे|
  • ताजी हवा मे रहे, धूप मे भी निकले एक घंटे के लिए और नींद पूरी ले| पानी खूब पीना ना भूले|
  • लिंग की नसों का इलाज जानकार अपनाए तो काफ़ी फरक पड़ेगा| वजन कम है या बढ़ गया है तो इस हालत को भी सुधारे|
  • साथ मे सेक्स कमज़ोरी का इलाज चेक उप और ट्रीटमेंट करवाए डॉक्टर के पास से अगर ज़रूरी है|
  • परीक्षण मे यह साबित होती है की इलाज ज़रूरी है दवा द्वारा तोह उसकी दवा ले|
  • सिल्डेनाफिल (Sildenafil)और तदफील(tadafil) जैसे गोली से टेम्पररी फायदा होगा मगर हमेशा इनका उपयोग ना करे क्योंकि यह फायदे से ज़्यादा नुकसान करेंगी|
  • बेहतर यह है की लिंग मे तनाव लाने के घरेलू उपाय सामान्य घरेलू सामग्री और आयुर्वेदिक जड़ी बूटी से करे|

एक्सट्रीम्स कैप्सूल से करे इसका उपचार

एक्स्ट्रीमक्स एक प्राकृतिक कैप्सूल है जो नपुंसकता के परेशान मुद्दे को आसानी से ठीक करता है। एक्स्ट्रीमक्स कैप्सूल सर्वश्रेष्ठ और प्रभावी उन कुछ यौन दवाओं में से एक है जो न केवल  समय से पहले स्खलन को रोकने में बल्कि आकार में वृद्धि करने में मदद करता है, सहनशक्ति, शीघ्रपतन, निर्माण क्षमता, संभोग का समय, लिंग स्थिरता, संभोग सुख, क्षमता और वीर्य मूल्य धारण करने में सुधार करता है।

यदि आप चाहते हैं कि आपकी शादी शुदा ज़िन्दगी में खुशिया भरी रहे और आपकी यौन से जुडी समस्याएँ दूर हो जाये, तो आपको एक्स्ट्रीम एक्स कैप्सूल का इस्तेमाल करना चाहिए और डॉ। हाशमी से संपर्क करना चाहिए जो आपकी समस्या का समाधान करेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *