शीघ्रपतन की समस्या के घरेलू उपाय

शीघ्रपतन की समस्या के घरेलू उपाय

सेक्‍स संबंध मनुष्‍य की एक आवश्‍यकता है। यदि यह पूरी नहीं होती है तो शरीर में कई तरह के विकार को जन्‍म दे सकती है। भागदौड़ व तनाव भरी जिंदगी में पुरुषों में शीघ्रपतन की समस्‍या ‌_ Premature ejaculation हो जाती है। चूंकि न खाने का समय रह गया है और आराम करने का। आगे जाने की प्रतिस्‍पर्धा ने हमारा बहुत कुछ हमसे छीन लिया है। ऐसे में हम पौष्टिक आहार से लगभग वंचित होते जा रहे हैं और इनकी जगह जंक फूड, फास्‍ट फूड अपनी जगह बनाते जा रहे हैं। शीघ्रपतन की समस्‍या की एक वजह यह भी है।

इसके अलावा तनाव के चलते भी यह समस्‍या जन्‍म लेती है। यह समस्‍या होने से पुरुष अपनी महिला साथी को संतुष्‍ट नहीं कर पाता है और स्‍वयं भी संतुष्‍ट नहीं हो पाता है। इससे वैवाहिक जीवन पर भी संकट आ सकता है। लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको शीघ्र स्खलन का घरेलू इलाज बताने जा रहे हैं जो न सिर्फ शीघ्रपतन की समस्‍या से निजात दिलाएंगे बल्कि कमजोरी भी दूर करेंगे।

शीघ्रपतन की समस्‍या में सहज प्रयोग

शीघ्र स्खलन के आयुर्वेदिक उपाय बहुत फायदेमंद होते हैं। आइए आज आपको कुछ सफल प्रयोग बताते हैं, जिनसे आपको बहुत लाभ होगा।

अनार तो पौष्टिक गुणों से भरपूर होता ही है लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि इसके छिलके में भी गजब की ताकत है। पुरुषों में कमजोरी दूर करने की इनमें अद्भुत क्षमता है। अनार के छिलकों को सुखाकर पीस लें। रोज सुबह-शाम एक चम्‍मच चूर्ण खाने से शीघ्र स्खलन व कमजोरी की समस्‍या दूर हो जाएगी।

– रात को सोने से पहले लहसुन की दो कलियां पानी के साथ निगल लें। आंवला चूर्ण व मिसरी चूर्ण मिलाकर रोज एक चम्‍मच सेवन करने से भी लाभ होगा।

– नागकेशर, धाय के फूल, मुलेठी व बबूलफली समान मात्रा में लें और इसका आधा मिसरी मिलाकर पीस लें। सुबह-शाम 5-5 ग्राम यह चूर्ण खाने से शीघ्रपतन की समस्‍या दूर होती है। इसका प्रयोग नियमित एक माह तक करना चाहिए।

– पुरुषों की कमजोरी दूर करने के लिए पुनर्नवा रामबाण कहा जाता है। पुनर्नवा की जड़ों का रस (2 चम्मच) नियमित दो से तीन माह तक दूध के साथ लेने से वृद्ध व्‍यक्ति भी युवा शक्ति से भरपूर हो जाता है।

– अत्‍यधिक स्‍वप्‍नदोष होने की स्थिति में आंवला का मुरब्‍बा खाना चाहिए। केला व दूध साथ लेने से पुरुषों की शक्ति बढ़ती है। नियमित केला व दूध लेने से अनेक प्रकार की कमजोरी दूर हो जाती है।

शीघ्र स्खलन में परहेज

शीघ्र स्खलन की दवा करते समय अधिक मात्रा में गरिष्‍ठ भोजन से बचना चाहिए। खासतौर से ऑयली फूड, बर्गर, पिज्‍जा व फास्‍ट फूट आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। इनसे शीघ्रपतन बढ़ता है। अधिक मात्रा में दूध, घी, मेवे, मिठाई व पौष्टिक चीजों के सेवन को भी आयुर्वेद अच्‍छा नहीं मानता है।

एक्सट्रीम्स कैप्सूल से उपचार करे 

एक्सट्रीमएक्स कैप्सूल एक हर्बल लिंग इज़ाफ़ा दवा है, शुद्ध और शक्तिशाली जड़ी बूटियों से बना, विशेष रूप से यौन मुद्दों के प्रसिद्ध और विशेषज्ञ विशेषज्ञ द्वारा बनाई गई है, हकीम हाशमी जी यह दवा उन सभी पुरुषों के लिए एक आदर्श उपचार है जो अपने जीवन में किसी भी तरह के यौन मुद्दों का सामना करते हैं। चाहे यह एक छोटी संभोग समय की समस्या या नरम निर्माण समस्या, कम कामेच्छा या यौन सुख में विफलता है, यह दवा सबसे सुखदायक और सुरक्षित तरीके से सभी यौन समस्याओं को हल करने के लिए बनाई गई है।

एक अध्ययन के मुताबिक, जो लोग डेढ़ महीने तक इसका सेवन कर रहे हैं, वे अपने यौन स्वास्थ्य में बहुत अच्छे परिणाम पा रहे हैं। आप केवल हश्मी डॉक्टर से परामर्श करके  इसका सेवन करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *