शीघ्रपतन रोकने के घरेलू उपचार

शीघ्रपतन रोकने के घरेलू उपचार

शीघ्रपतन क्या है ? 
पुरुष की इच्छा के विरुद्ध उसका वीर्य अचानक स्खलित हो जाए, स्त्री सहवास करते हुए संभोग शुरू करते ही वीर्यपात हो जाए और पुरुष रोकना चाहकर भी वीर्यपात होना रोक न सके, बीच में अचानक ही स्त्री को संतुष्टि व तृप्ति प्राप्त होने से पहले ही पुरुष का वीर्य स्खलित हो जाना या निकल जाना, इसे शीघ्रपतन होना कहते हैं। इस व्याधि का संबंध स्त्री से नहीं होता, पुरुष से ही होता है और यह व्याधि सिर्फ पुरुष को ही होती है।

शीघ्र पतन की सबसे खराब स्थिति यह होती है कि सम्भोग क्रिया शुरू होते ही या होने से पहले ही वीर्यपात हो जाता है। सम्भोग की समयावधि कितनी होनी चाहिए यानी कितनी देर तक वीर्यपात नहीं होना चाहिए, इसका कोई निश्चित मापदण्ड नहीं है। यह प्रत्येक व्यक्ति की मानसिक एवं शारीरिक स्थिति पर निर्भर होता है।
शीघ्रपतन की समस्या का असर व्यक्ति की सेक्सलाइफ पर देखने को मिलता है। इस समस्या के चलते व्यक्ति अपने लाइफ पार्टनर या प्रेमिका को सेक्स संतुष्टि नहीं दे पाता। इससे नाजायज संबंध भी बन जाते हैं, जिसकी परिणति कई बार परिवार के टूटने के रूप में भी होती है।

क्यों होता है शीघ्र पतन ?

1. अत्यधिक हस्मैथुन करने से शरीर की बायोलॉजिकल क्लॉक का सेट हो जाना। इसके कारण व्यक्ति (पुरुष) को क्लाइमेक्स पर पहुंचने की जल्दी होती है तथा वह शीघ्रातिशीघ्र आनंद की अनुभूति करना चाहता है।
2. सेक्स के बारे में अत्यधिक सोचना भी शीघ्रपतन के लिए जिम्मेदार होता है। सेक्स फैंटेसी या पोर्न फिल्म देखने से भी व्यक्ति अत्यधिक उत्तेजित हो जाता है और जल्दी ही स्खलित हो जाता है।
3. अल्कोहल एवं डायविटीज की वजह से उत्पन्न न्यूरोपैथी की वजह से भी शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न हो सकती है।
4. सेक्स के शुरुआती दिनों में भी इस तरह की समस्या पैदा हो जाती है।
5. नया पार्टनर होने की स्थिति में भी जल्दी वीर्य स्खलित हो सकता है।
6. शीघ्र स्खलन इस पर भी निर्भर करता है कि उत्तेजना देने का तरीका कैसा है।
7. ऑरल सेक्स से भी व्यक्ति जल्दी डिस्चार्ज हो सकता है।

शीघ्रपतन रोकने के घरेलू उपचार

  • मुलहठी के बारीक चूर्ण को 10 ग्राम की मात्रा में घी और शहद से साथ चाटकर ऊपर से दूध पीने से संभोग शक्ति बहुत तेज होती है ।
  • लगभग 250 ग्राम शतावरी घृत में इतनी ही मात्रा में शक्कर, 5 ग्राम छोटी पीपल और 5 चम्मच शहद मिला लें। इस मिश्रण को 1-1 चम्मच की मात्रा में सुबह और शाम दूध के साथ सेवन करने से संभोग करने की शक्ति तेज हो जाती है।
  • अदरक का रस 6 ग्राम, सफेद प्याज का रस 10 ग्राम, 5 ग्राम शहद, गाय का घी 3 ग्राम, सबको एक साथ मिलाकर रोजाना चाटें एक मास तक इससे हर तरह की मर्दाना ताकत बढ़ती है।
  • केसर को दूध में कुछ दिनों तक डालकर खाने से शीघ्रपतन दूर हो जाता है।
  • दालचीनी के तेल में 3 गुना जैतून का तेल मिलाकर शिश्न पर लगाने से मर्दानगी लौट आती है। ध्यान रहे इस पर ठंड़ा पानी न पड़े।
  • सफेद चीनी, ग्वारपाठे का गूदा, घी और गेंहू के मैदा को बराबर मात्रा में एकसाथ मिलाकर हलवा  बनाकर खाने से 21 दिन में ही पुरुष की नपुंसकता दूर हो जाती है।

एक्सट्रीम्स कैप्सूल का भी इस्तेमाल कर सकते है:-

एक्स्ट्रीमक्स एक प्राकृतिक कैप्सूल है जो शीघ्रपतन से परेशान मुद्दे को आसानी से ठीक करता है। एक्स्ट्रीमक्स कैप्सूल सर्वश्रेष्ठ और प्रभावी उन कुछ यौन दवाओं में से एक है जो न केवल समय से पहले स्खलन को रोकने में बल्कि आकार में वृद्धि करने में मदद करता है, सहनशक्ति, निर्माण क्षमता, संभोग का समय, लिंग स्थिरता,संभोग सुख, क्षमता और वीर्य मूल्य धारण करने में सुधार करता है।

Free Consultation with Dr. Hashmi

Contact us:-+91 9999216987

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *